ढाई दिन में गिरी येदुरप्पा का सरकार

कर्नाटका  .कर्नाटका के चुनाव की वजह से हुआ उथल पुथल आखिर कर शांत हो गई    येदुरप्पा के इस्तीफे के साथ .असल में आज बीजेपी को आज फ्लोर टेस्ट   देना था पर उससे पहले ही येदुरप्पा ने इस्तीफा दे कर    बहुमत न जमा कर पाने की बात की सिद्ध कर दिया.हालांकि येदियुरप्पा ने अपने लंबे भाषण में आगे की कई रणनीति का जिक्र किया और फिर अंत में राज्यपाल के पास जाकर इस्तीफा सौंपने का ऐलान कर दिया.फ्लोर टेस्ट से पहले अपने भाषण में कहा की " जनता ने हमें 113 सीटें नहीं दी. अगर वह ऐसी करती तो राज्य में स्थिति बदल जाती, दूसरी तस्वीर होती. राज्य को ईमानदार नेताओं की जरुरत है. मेरे सामने आज अग्निपरीक्षा है. मैं फिर से जीत के आऊंगा. हम 150 से ज्यादा सीटें जीतेंगे. राज्य के हर क्षेत्र में जाऊंगा और जीतकर आऊंगा. राज्य में जल्द चुनाव होगा .कर्नाटक के किसान आंसू बहा रहे हैं. करीब 3,700 किसानों ने खुदकुशी की. जब तक जिंदा रहूंगा किसानों के हित के लिए काम करता रहूंगा. मैं किसानों को बचाना चाहता हूं. हमने मौके पर जाकर किसानों की मदद की."

 

Add Comment

Posted Comments