दो दिवसीय समीक्षा बैठक मे दिव्यांगों और ट्रांस जेंडरों को मनरेगा से जोड़ने अधिकारियों को दिए निर्देश देने पहुंचे पंचायत मंत्री अजय चंद्राकर

रायपुर .दो दिवसीय समीक्षा बैठक मे दिव्यांगों और ट्रांस जेंडरों को मनरेगा से जोड़ने अधिकारियों को दिए निर्देश देने पहुंचे पंचायत मंत्री अजय चंद्राकर नया रायपुर के निमोरा स्थित पंचायत एवं ग्रामीण विकास प्रशिक्षण संस्थान में . जहाँ उन्हों ने मुख्य कार्यपालन अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली. बैमंत्री अजय चन्द्राकर ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन सहित विभिन्न विभागीय योजनाओं से कन्वर्जेंस कर स्व-सहायता समूहों को जोड़ने तथा समूहों के सदस्यों के आमदनी बढ़ाने के लिए व्यक्तिगत रूचि लेकर बेहतर काम करने निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मनरेगा श्रमिकों का प्राथमिकता के तौर पर समय-सीमा में भुगतान सुनीश्चित हो। साथ ही मनरेगा में दिव्यांगों और ट्रांसजेंडरों को पंजीकृत कर रोजगार उपलब्ध कराए। ठक में मंत्री अजय चन्द्राकर ने सबसे पहले मनरेगा के प्रगति की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि ग्रामीण विकास की मूल अवधारणा गरीबी उन्मूलन है। यदि हम गरीबी उन्मूलन की दिशा में एक-एक श्रेष्ठ काम करके उनका क्रियान्वयन करें तो इससे सैकड़ों लोगों की भलाई हो सकता है, जो हमारे लिए गर्व की बात है।

बैठक में पंचायत मंत्री चन्द्राकर ने माह जुलाई, अगस्त में विशेष तौर पर नदी-नालों के किनारे वृहद रूप से वृक्षारोपण करने के भी निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने जिला पंचायत, जनपद पंचायत और ग्राम पंचायतों में स्व सहायता समूहों के उत्पादों के विक्रय हेतु बाजार उपलब्ध कराने के लिए दो-दो दुकान निर्माण करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। बैठक में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव आर.पी. मंडल, सचिव पी.सी. मिश्रा, पंचायत एवं ग्रामीण विकास प्रशिक्षण संस्थान के संचालक एम. के. त्यागी, संचालक पंचायत संचालनालय, तारण सिन्हा, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के संचालक नीलेश क्षीरसागर सहित सभी जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी उपस्थित थे। मंत्री चन्द्राकर कल आठ मई को सवेरे 10 बजे से प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास प्रशिक्षण संस्थान सहित अन्य योजनाओं की प्रगति की समीक्षा करेंगे।

Add Comment

Posted Comments