कर्नाटका चुनाव : सोमवार को शक्ति प्रदर्शन के साथ कुमारस्वामी बनगे मुख्यमंत्री

कर्नाटका . कल का दिन कर्नाटक में हुए   चुनाव के लिए बेहद ही उथलपुथल  वाला रहा जहाँ एक और येदुरप्पा की ढाई दिन की सरकार गिर गयी वहीँ ,कुमारस्वामी के नेतृत्व में कांग्रेस और जेडीएस ने सरकार   बनाने  दावा भी पेश कर दिया और अब तो सोमवार को शपथ ग्रहण समरोह भी रखा गया .अगर सूत्रों  मैंने तो कल यानि सोमवार को शपथ  ग्रहण समरोह के साथसाथ कांग्रेस अपने  गठजोड़ का शक्ति प्रदर्शन   करेगी .कहीं न कहीं २०१९ में होने वाले लोकसभा चुनाव   की  लिए शक्ति प्रदर्शन होगा.जानकारी के मुताबिक कांग्रेस ने कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में बीएसपी प्रमुख मायावती, तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी, सपा नेता अखिलेश यादव, एनसीपी प्रमुख शरद पवार, टीआरएस प्रमुख और तेलंगाना के सीएम केसीआर, आंध्र प्रदेश के सीएम और टीडीपी नेता चंद्रबाबू नायडू, डीएमके नेताओं, राजद नेताओं सहित आरएलडी नेता अजित सिंह को बुलावा भेजा है.

कल आये राहुल गाँधी के बयान से ये साफ जाहिर है की कांग्रेस कोइ भी रास्ता  अपना सकती है बीजेपी याफिर कहे की मोदी को रोकने के लिए . इस प्रेस वार्ता  में  राहुल ने मोदी तथा बीजेपी के हर एक नेता को भ्रष्टाचार में  लिप्त   बताया और भारत में ताकत कुछ नहीं है. लोगों की इच्छाशक्ति ही सबकुछ है. हमने जनता को बताया और बीजेपी के अहंकार की सीमा भी गिनाई. इस देश को कैसे चलाया जाना है इसकी एक सीमा है. राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री का मॉडल लोकतांत्रिक नहीं, तानाशाही वाला है.नरेंद्र मोदी को मैसेज देते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री भारत से बड़ा नहीं है. पीएम जनता, सुप्रीम कोर्ट, संसद, विधानसभा से बड़ा नहीं हो सकता. उन्हें ये सोचना बंद करना होगा. उन्हें समझना होगा कि हर संस्थान का सम्मान करना होगा, जिस तरीके से उनकी ट्रेनिंग हुई है मुझे शक है कि संघ किसी को अपने सामने सम्मान देता है.

Add Comment

Posted Comments