जज्बा हो तो ऐसा, दुधमुंहे को गोद में लेकर परीक्षा दे रही ये महिला

काबुल। दिल में कुछ करने का जज्बा हो तो रास्ता खुद ही मिल जाता है। अफगानिस्तान में ऐसा ही एक मामला सामने आया है। जहां एक महिला अपने बच्चे का ध्यान रखते हुए क्लासरूम की फर्श पर बैठकर अपना पर्चा लिख रही है। इसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही हैं।

ये तस्वीर अफगानिस्तान के डेकुंडी प्रांत की एक निजी विश्वविद्यालय की है। जहां ये महिला बच्चे के साथ परीक्षा देने पहुंची थी।

बच्चे को लेकर परीक्षा देने पहुंचीं महिला-

25 साल की जहां ताब निली सिटी के एक कॉलेज में सामाजिक विज्ञान कोर्स में दाखिले का एंट्रेस एग्जाम देने पहुंचीं थी। जहां उसका दो महीने का बच्चा रोने लगा। ऐसे में महिला अपने कुर्सी से उठी और क्लासरूम के फर्श पर बैठकर नवजात को चुप कराने लगी। जैसे ही बच्चा चुप हो गया। इस महिला ने अपना पेपर दोबारा लिखना शुरू कर दिया। परीक्षा की निगरानी के लिए तैनात किए गए लेक्चरर याह्या इरफान ने इसे देखा तो उनसे रहा नहीं गया और उन्होंने अपने मोबाइल कैमरे से कुछ तस्वीरें खींच ली। जिसे बाद मे अपने फेसबुक अकाउंट पर पोस्ट कर दिया।

परीक्षा पास कर ली, फीस के पैसे नहीं-

ताब के पहले से ही तीन बच्चे हैं और वो अपने गांव होश्तो से आठ घंटे का सफर तय करके परीक्षा देने निली सिटी पहुंचीं थी। किस्मत और काबिलियत देखिए कि ताब ये परीक्षा 152 अंकों के साथ पास कर गई। अब वो कॉलेज में दाखिला लेने के लिए बेताब है। हालांकि उसकी माली हालत ऐसी नहीं है कि वो कॉलेज की फीस दे सके। क्योंकि उसके पति गरीब किसान हैं।

ऐसे में उसे फीस का इंतजाम करना होगा। इस बीच महिला की मदद के लिए एक ब्रिटिश संस्था अफगान यूथ एसोसिएशन ने GoFundMe नाम से एक कैंपेन शुरू किया है, ताकि इसकी फीस का इंतजाम किया जा सके।

Add Comment

Posted Comments