विश्व भारती विश्वविद्याल के 49वें दीक्षांत समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बांग्लादेशी की प्रधानमंत्री शेख हसीन ने हिस्सा लिया

नई दिल्ली .  नई दिल्ली के विश्व भारती विश्वविद्याल के 49वें दीक्षांत समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बांग्लादेशी की प्रधानमंत्री शेख हसीन ने हिस्सा लिया .इस मौके पर भाषण   देते हूए कहा   की सबसे पहले मैं विश्वभारती के चांसलर के तौर पर माफी मांगता हूं। जब मैं यहां आ रहा था, तो कुछ छात्रों ने मुझसे कहा कि यहां पीने के पानी की समस्या है। मैं आप सबको हुई असुविधा के लिए माफी मांगता हूं।बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना यहां मौजूद हैं। भारत और बांग्लादेश दो अलग-अलग देश हैं, लेकिन हमारे हित जुड़े हुए हैं। चाहे वो संस्कृति हो या पब्लिक पॉलिसी, हम एक दूसरे से बहुत सीखते हैं और इसका एक बड़ा उदाहरण बांग्लादेश भवन है।दुनिया के अनेक विश्वविद्यालयों में टैगोर आज भी अध्ययन का विषय हैं। गुरुदेव पहले भी वैश्विक नागरिक थे और आज भी हैं। पीएम मोदी और शेख हसीना ने रविन्द्र भवन का भी दौरा किया। इसके बाद दोनों राष्ट्र प्रमुखों ने मिलकर भारत और बांग्लादेश के सांस्कृतिक संबंधों के प्रतीक 'बांग्लादेश भवन' का उद्घाटन किया। इस मौके पर बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी  ने कहा  कि हसीना के साथ उनके सौहार्दपूर्ण संबंध हैं और कोई भौगोलिक या राजनीतिक सीमा पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के बीच मतभेद नहीं पैदा कर सकती, क्योंकि उनकी संस्कृति और भाषा एक ही है।

Add Comment

Posted Comments