इस बार कांग्रेस आजादी दिवस के दिन देगी सीट का तोहफा अपने कार्यकर्ताओं को

बिलासपुर . आज राहुल गाँधी अपनी दो दिन की यात्रा के दुसरे दिन बिलास पुर पहुंचे  जहाँ   उन्हों ने  बहुँत से वादे किये और राज्य सरकार और केंद्र दोनों पर निशाना साधते हुए कहा की  दो विचारधारा की लड़ाई है. एक तरफ कांग्रेस की विचारधारा है तथा दूसरी तरफ आरएसएस की विचारधारा है. हमको मिलकर खड़े होना है. हमें संविधान की रक्षा करनी है।राहुल ने पंचायत प्रतिनिधियों से चर्चा के दौरान कहा कि जब केंद्र में कांग्रेस की सरकार आएगी तो उनकी प्राथमिकता शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार होगी जिसमें मोदी सरकार लगातार विफल रही है. किसानों की बेहतरी के लिए काम किया जाएगा. उन्होंने कहा कि आदिवासी यो के लिए पेशा कानून और 5वी अनुसूची जैसे नियम काँग्रेस ने बनाये है जिसे तोड़ा जा रहा है ।उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार किसानों को बोझ समझती है, लेकिन कांग्रेस उन्हें शक्ति मानती है. इस देश में कोई भी भूखा नहीं रहता, यह किसानों की ही देन है. हमारी सरकार बनी तो किसानों को पानी और उनकी जमीन की रक्षा का जिम्मा कांग्रेस का होगा हमारी सरकार जनता से सीधा फ़ोन के माध्यम से जुड़ेगी|उन्होंने बुथलेवल कार्यकर्ताओं से कहा कि यदि हम बूथ पर पूरी ईमानदारी से लड़ाई लड़ेंगे तो 2019 में छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनेगी। उन्होंने संकेत दिए कि आगामी 15 अगस्त तक सभी विधानसभा के लिए प्रत्याशियों का चयन कर लिया जाएगा। राहुल छत्तीसगढ़ के दो दिवसीय दौरे पर हैं. अपने पहले दिन के दौरे में उन्होंने कांग्रेस से जुड़े पंचायत प्रतिनिधियों के सम्मेलन को संबोधित किया. आज वो बिलासपुर विधानसभा के बहतराई में बुथलेवल कार्यकर्ताओं को सम्बोधित कर रहे थे।आगे बोलते हुए बोले की ‘मैंने मोदी जी से कहा आप बिजनेसमैन को लोन दे सकते हो, आप ऐसा ही छत्तीसगढ़ के किसानों के साथ क्यों नहीं करते? मोदी जी ने अभी तक मेरे सवालों का जवाब नहीं दिया. एक बार हम 2019 में सत्ता में आएंगे तो सभी किसानों का लोन माफ कर देंगे.

Add Comment

Posted Comments